My Blog List

20141203

एक विलेन की तलाश


रितेश देशमुख ने फिल्म एक विलेन से सफलता हासिल की. दर्शकों ने उन्हें हास्य कलाकार होने के बावजूद विलेन के रूप में पसंद किया. शायद यही वजह है कि इन दिनों फिल्मों के निर्देशक लगातार विलेन को लेकर प्रयोग कर रहे हैं. खबर है कि जल्द ही अरबाज खान अब्बास मुस्तान की फिल्म में नेगेटिव किरदार में नजर आयेंगे. अरबाज खान ने हालांकि इस फिल्म से पहले दरार में भी खलनायक की भूमिका निभा चुके हैं. फिल्म किल दिल में गोविंदा नेगेटिव किरदार निभा रहे हैं. यह स्पष्ट है कि हिंदी सिनेमा में वर्तमान में अमरीश पुरी, अमजेद खान, प्राण, प्रेम चोपड़ा जैसे खलनायकों की कमी खलती है और यही वजह है कि अलग अलग रूपों में मुख्य धारा के कलाकारों को भी विलेन की भूमिका निभाने के आॅफर किये जा रहे हैं. हालांकि अब्बास मस्तान की फिल्मों की खूबी भी यही रही है कि वे अपनी फिल्मों में नेगेटिव किरदार निभाने का मौका लीड किरदारों को  ही देते हैं. िफर चाहे वह अजनबी फिल्म में अक्षय कुमार हों या रेस में अक्षय खन्ना. फिल्म रेस 2 में जॉन अब्राह्म ने एक बेहतरीन नेगेटिव किरदार निभाया है. इससे यह तो स्पष्ट है कि अब्बास अरबाज को लेकर बिल्कुल सचेत होेंगे कि वे क्यों उनके फिल्म के खलनायक बनने के लिए उचित चुनाव हैं. अरबाज इन दिनों अपनी फिल्म मेकिंग पर अधिक ध्यान दे रहे हैं. पिछले कुछ वर्षों में उन्होंने अपने होम प्रोडक् शन की फिल्मों में ही काम किया है. साथ ही कुछ स्पेशल अपीयरेंस में नजर आते रहे हैं. इस लिहाज से उनके लिए भी अपने कंफर्ट जोन से बाहर निकल कर अब्बास मुस्तान की थ्रीलर फिल्मों का खलनायक बनने का मौका मिल रहा है और उनके लिए खुद को साबित करने की चुनौती होगी. हो सकता है कि जिस तरह रितेश को प्रशंसा मिली है. अरबाज को भी मिले

No comments:

Post a Comment