My Blog List

20140401

कंफर्ट जोन से बाहर निकलते सितारें


 विद्या बालन इंटेस और गंभीर अभिनेत्री मानी जाती हैं. लेकिन उनकी हाल ही में रिलीज हुई फिल्म शादी के साइड इफेक्ट्स को देख कर यह बात स्पष्ट हो रहंी है कि वह अपनी बनी बनाई छवि को तोड़ने की कोशिश कर रही हैं. जूही पहली बार नकारात्मक किरदार निभा रही हैं तो आलिया भट्ट ने अपने कंफर्ट जोन से बाहर आकर हाइवे की. आमिर खान ने धूम 3 की. दरअसल, इन दिनों कलाकारों की यह चाहत है कि वे अपनी बनी बनाई छवि से बाहर निकलने की कोशिश कर रहे हैं.
आमिर खान की धूम
आमिर खान जानते थे कि वे जिस तरह की फिल्में करते आये हैं. धूम 3 उससे जुदा फिल्म हैं. उन्हें न सिर्फ अत्यधिक शारीरिक मेहनत करनी पड़ेगी. बल्कि उन्हें खुद को मानसिक रूप से भी तैयार करना होगा. आमिर खान की शारीरिक बनावट ऐसी है, जिसमें उन्हें बाइक चलाने में परेशानी होगी. सर्कस के मूव्स दिखाने में तकलीफ होगी. लेकिन फिल्म गजनी के बाद आमिर खान ने धूम 3 का चुनाव किया. वे शांत स्वभाव की फिल्मों से जुदा धूम 3 में आक्रमक, बाइक से कई तरह के स्टंट करते नजर आयें. इससे स्पष्ट है कि आमिर खान जैसे सुपरस्टार को भी यह चाहत होती है कि वे एक से किरदार न निभायें. ताकि एकरूपता उनकी जिंदगी पर हावी न हो.
विद्या बालन की घनचक्कर और शादी के साइड इफेक्ट्स
विद्या बालन अपनी हाल ही में रिलीज फिल्म शादी के साइड इफेक्ट्स में थोड़ी असहज नजर आयी हैं. चूंकि आमतौर पर वे जैसी फिल्में करती हैं. वह उन पर आधारित होती है. अऔर उनमें गंभीरता होती है. लेकिन वह लगातार दो फिल्मों में अपना अलग रूप दिखाने की कोशिश कर रही हैं. दर्शकों को उनका यह रूप हजम नहीं हो रहा. लेकिन विद्या साफ शब्दों में कहती हैं कि वह कलाकार हैं और उन्हें हर तरह के किरदार निभाने हैं. उन्होंने बॉबी जासूस में हास्य किरदार निभाया है.
सुशांत सिंह राजपूत
सुशांत सिंह जल्द ही दिबाकर बनर्जी की फिल्म ब्योमकेश बक् शी में एक ऐसे लुक में नजर आयेंगे. जो उन्होंने इससे पहले नहीं किया, सुशांत की दो फिल्मों से साफ हो चुका है कि वे किस तरह के अभिनेता हैं. लेकिन यह फिल्म उनकी इमेज एक बार फिर से बदल देगी.
माधुरी का स्टंट
माधुरी ने फिल्म गुलाब गैंग में कई तरह के स्टंट किये हैं और उन्होंने सारे स्टंट खुद किये हैं. वे नहीं चाहतीं कि लोग उन्हें यह कहे कि उन्होंने बॉडी डबल का इस्तेमाल किया है. साथ ही फिल्म में उन्होंने गाना भी गाया है. माधुरी की लालसा है कि लोग उन्हें प्रतिभाशाली डांसर के साथ साथ एक स्टंट करतीं अभिनेत्री के रूप में भी जानें. उन्होंने गुलाब गैंग में सबको हैरत में डाल दिया है.
जूही का नेगेटिव किरदार
जूही चावला ने जब पहली बार गुलाब गैंग की कहानी सुनी थी तो उन्होंने फिल्म करने से इ्यकार कर दिया था कि लोग उन्हें नेगेटिव किरदार में नहीं स्वीकारेंगे. लेकिन अब जब उन्होंने यह फिल्म स्वीकार ली है तो उन्हें पूरा विश्वास हो गया है कि वह इस तरह के चैलेंजिंग किरदार भी निभा सकती हैं और अपने निर्णय से वे बेहद खुश हैं. चूंकि फिल्म के प्रोमो को देख कर उनके किरदार की काफी तारीफ हो रही है.
आलिया भट्ट
आलिया भट्ट ने पहली फिल्म में पैंपरड और हाइ सोसाइटी में काम करनेवाली लड़की का किरदार निभाया था. लेकिन फिल्म हाइवे में उन्होंने अपने कंफर्ट जोन से निकल कर कई परेशानियों के बावजूद रियलिस्टिक किरदार निभाया है और वह भी अपने निर्णय से बेहद खुश हैं.
सलमान खान
सलमान खान ने तय किया है कि अब वह फिर से अपनी रोमांटिक किरदार में वापसी करेंगे. कई एक् शन फिल्में करने के बाद उन्होंने प्रेम का रास्ता चुना है और जल्द ही उनकी फिल्म सूरज बड़जात्या के साथ आनेवाली है जिसमें वह रोमांटिक हीरो के किरदार में नजर आयेंगे.
कट्रीना कैफ
कट्रीना यह सुन कर थक चुकी हैं कि वह हिंदी फिल्मों की बार्बी डॉल हैं, सो उन्होंने तय किया है कि अब वह अपनी आगामी फिल्म जग्गा जासूस में जो किरदार निभाने जा रही हैं. उसमें वह जैसा किरदार निभा रही हैं. उसमें सिर्फ नाच गाना नहीं होगा.
बॉक्स में : निर्देशक -निर्माता भी हैं बेचैन
दरअसल, इन दिनों कई निर्देशक भी अपनी इमेज बदलने की कोशिश कर रहे हैं. इसमें सबसे पहला नाम करन जौहर का आता है. उन्होंने गोरी तेरे प्यार में के निर्माता बन कर यह साबित किया कि अब वह भी गांव में फिल्में बनाना चाहते हैं. अनुराग बतौर निर्माता डार्क फिल्में नहीं, बल्कि मनोरंजक फिल्में परोसने की कोशिश कर रहे हैं. दिबाकर बनर्जी की फिल्म ब्योमकेश बक् शी कर्मशियल रूप से भी अलग तरह की फिल्म है. संजय लीला भंसाली भी बतौर निर्माता राउडी राठौड़ और गब्बर जैसी फिल्में बना रहे हैं. यशराज जहां मनोरंजक फिल्में बनाता है. अब वह पानी और ब्योमकेश बक् शी जैसी इंटेंस फिल्मों का भी चुनाव कर रही हैं. दीया मिर्जा बॉबी जासूस जैसी फिल्में कर रही हैं.

बॉक्स 2 : सफल और असफल रहे हैं कलाकार
अपनी इमेज बदलने की कोशिश में अब तक गोविंदा जो कि हास्य अभिनेता माने जाते हैं और उन्होंने जब भी नेगेटिव किरदार निभाने की कोशिश की है. वह नाकामयाब रहे हैं. सनी देओल ने कई बार हास्य फिल्मों में खुद को साबित करने की कोशिश की. लेकिन आज भी उनका एंग्रीमैन होना ही उनकी पहचान बन चुका है. सैफ अली खान की चाहत है कि वह एक् शन हीरो बने. इसके लिए उन्होंने एजेंट विनोद की और साथ ही बुलेट राजा भी की. लेकिन वह सफल नहीं हो पाये. करीना कपूर ने हीरोइन फिल्म से खुद को इंटेस अभिनेत्री के रूप में स्थापित करने की कोशिश की. लेकिन कामयाब नहीं हो पाये.

No comments:

Post a Comment