My Blog List

20140425

शिव का नाम लेने भर से ही मिल जाती है ऊर्जा : मोहित रैना


लोगों ने शिव को नहीं देखा. लेकिन इन दिनों वे इन्हें ही भगवान शिव मानते हैं. वर्षों बाद टेलीविजन पर प्रसारित हो रहे किसी धार्मिक शो को इस कदर लोकप्रियता मिली कि लोगों ने उन्हें शिव मानना शुरू कर दिया. बात हो रही है मोहित रैना की. मोहित खुद भी भगवान शिव के भक्त है. शिव से किस तरह से मिलती है ऊर्जा और कैसे निभाते हैं वे यह किरदार बता रहे हैं खुद मोहित रैना

शिव, साधना और अध्यात्म का गहरा संबंध है. आप इनसे कैसे तारतम्य बिठाते हैं. 
मैं अपने काम और अपनी व्यक्तिगत जिंदगी में सामांजस्य बिठाना जानता हूं. जब मैं महादेव की शूटिंग कर रहा होता हूं तो मैं शो को 100 प्रतिशत देता हूं. मैं स्क्रीप्ट को बार बार पढ़ता हूं. मैं लगभग 15 मिनट का मेडिटेशन करता हूं. ताकि मैं अपना बेस्ट दे सकूं. यह जो मंै 15 मिनट का समय लेता हूं. इस 15 मिनट में मैं पूरी तरह से महादेव की दुनिया में चला जाता हूं और फिर पूरे ध्यान के साथ इस किरदार को निभाता हूं.

आप मॉडलिंग से हैं और आपका किरदार शिव का है. क्या इस भूमिका ने मॉडल मोहित रैना पर कुछ अच्छे प्रभाव छोड़े हैं?
हां, बहुत ज्यादा. मैं शिव भक्ति से बहुत ज्यादा प्रभावित रहा हूं. मैं जब महादेव की शूटिंग नहीं कर रहा था. उससे पहले से मैं शिव का भक्त रहा हूं. मैं शिव के बारे में न जाने कितनी किताबें पढ़ चुका हूं और मुझे अच्छी जानकारी है. इस बारे में. अब जबकि मैं उन पर आधारित शो की शूटिंग कर रहा हूं. तो मुझे उनकी जिंदगी के हर पहलुओं के बारे में पूरी जानकारी हो गयी है.और अब इन्हें गहराई से समझने भी लगा हूं. मैं अपनी जिंदगी में भले ही कोई भी किरदार निभा लूं. लेकिन शिव को मैं अपनी जिंदगी से अलग नहीं कर पाऊंगा और खासतौर से इस किरदार को. यह मेरी जिंदगी का सबसे खास किरदार रहेगा.

इस किरदार को निभाने से बाद कुछ बदलाव महसूस करते हैं? क्या इससे पहले शिव को मानते थे?
जैसा कि मैंने पहले ही कहा हां मैं शिव का फॉलोअर रहा हूं. और उन्होंने मेरी जिंदगी को पहले भी काफी प्रभावित किया है और हमेशा करते रहेंगे. उनकी दृढ़ निर्णय लेने की सोच व कई बातें मुझे हमेशा प्रभावित करती हैं.
जिस तरह टीवी पर आप शिव के रूप में मानव जाति को उनके आदर्श, कर्तव्य का बोध कराते हैं. उसे परिवार में भी फॉलो करते हैं?
हां, मैं भी फॉलो करता हूं और मेरा परिवार भी फॉलो करता है. मैं और मेरी मां कोशिश करते हैं कि जब भी मैं घर पर हूं साथ खाऊं. यह शिव का ही आदर्श है कि परिवार साथ साथ साथ रहे. साथ साथ खाये. शिव मां की महिमा को महत्व देते थे. मैं भी देता हूं. मैं कोशिश करता हूं कि मैं ज्यादा से ज्यादा समय मां के साथ बिताऊं. मातृत्व धर्म निभाने की कोशिश करता हूं.
क्या आपको ऐसा लगता है कि शिव ही शक्ति है, जो मनुष्य के जीवन को बदल सकता है?
मैं किसी को बदलने वाला कोई नहीं होता है. हां, मगर मुझे जान कर खुशी होती है कि लोग मुझे शिव मान कर खुद को बदलने की कोशिश करते हैं. हालांकि मैं सिर्फ किरदार प्ले कर रहा हूं. और मेरी यही कोशिश होती है कि शिव के रूप और प्रारूप को मैं सही तरीके से चरित्रार्थ कर सकूंू. लेकिन मैं कहना चाहूंगा कि मोहित रैना सिर्फ सिर्फ किरदार प्ले कर रहा है.  मैं किसी को हर्ट करने की कोश्श् िनहीं करना चाहता.

दर्शकों में आपकी अलग छवि बन चुकी है. तो रियल लाइफ में कैसे इसे लेकर सामांजस्य बिठाते हैं?
मैं एक अभिनेता की तरह ही पेश आता हूं. आम जिंदगी में मुझे भी वह सब कुछ पसंद है. जो आमलोगों को पसंद है. मैं जब शूटिंग नहीं करता तो मैं अकेले रहना पसंद करता हूं. मैं पार्टी करना पसंद नहीं करता. मैं अपनी मां के साथ वक्त बिताना पसंद करता हूं. एसा कई बार हुआ है कि मैं जिम में रहता हूं और कई लोग आते हैं और मुझसे कहते हैं कि मैं उन्हें आशीर्वाद दे दूं. लेकिन उस वक्त मैं दुविधा में पड़ जाता हूं कि लोग ऐसा क्यों सोचने लगे हैं. चूंकि मैं किसी के सेंटीमेंट से खेलना नहीं चाहता हूं.

शक्ति और ऊर्जा के रूप में शिव को किस तरह परिभाषित करेंगे?
मैं मानता हूं कि भगवान शिव सुप्रीम गॉड की तरह है. वह जिंदगी को बैलेंस देने वाले भगवान हैं. मैं जब छोटा था. तब भी उन पर अटूट विश्वास करता था और अब भी अटूट विश्वास करता हूं. मैं जब मेडिटेशन करता हूं. उनके बारे में सोचता हूं. हर शॉट से पहले उनका ध्यान करता हूं. जब भी उनका नाम लेता हूं मुझे ऊर्जा, पॉवर, शक्ति मिलती है.जिसके माध्यम से मैं शिव का किरदार कर पा रहा हूं.
कभी शिव सामने आयें तो उनसे क्या मांगना चाहेंगे?
बस यही कि वह मेरी मां को खुश रखें और मैं जिस तरह काम कर रहा हूं और जितनी मेहनत कर रहा हूं. उसका फल मुझे मिले. और जो दिया उसके लिए धन्यवाद कहना चाहूंगा.

No comments:

Post a Comment