My Blog List

20140425

हम दोनों के लिए खास है टू स्टेट्स : आलिया-अर्जुन


बी टाउन में इन दिनों आलिया भट्ट और अर्जुन कपूर की जोड़ी चर्चाओं में है. दोनों ने कुछ फिल्मों में काम किया है. लेकिन प्रशंसकों की फेहरिस्त लगातार बढ़ती जा रही है.दोनों एक साथ पहली बार फिल्म टू स्टेटस में नजर आ रहे हैं. 

अर्जुन और आलिया आप दोनों की पिछली फिल्म गुंडे और हाइवे कामयाब फिल्में रहीं. आप दोनों के ही अभिनय की सराहना हो रही है तो क्या आपको लगता है कि अब इंडस्ट्री से आपको स्वीकार कर लिया. अब आप दोनों स्थापित हो चुके हैं?
आलिया : टू स्टेट्स मेरी तीसरी फिल्म है. मुझे मेरे फैन से पहली फिल्म स्टूडेंट आॅफ ईयर में ही काफी प्यार मिल गया था और उनकी वजह से मैं आगे भी बढ़ रही हूं. हां, हाइवे से लोगों ने अभिनय की सराहना भी की. खुशी है. और ये बात अभी तो नहीं कह सकती कि हां, मैं स्थापित हुई हूं या नहीं.  अभी तो काफी काम करना है. अभी तो मैं नयी हूं. धीरे धीरे कदम बढ़ रहे हैं. नये मौके मिलने लगे हैं.
अर्जुन : मैं बेहद खुश हूं. कुछ दिनों पहले मैं विदेश गया था. वहां एक बुढ़ी महिला मेरी तसवीर लेकर खड़ी थी और बाला बाला चिल्ला रही थी. उनकी आंखों में जो मेरे लिए प्यार था. वह देख कर मुझे बहुत संतुष्टि मिलती है. स्थापित होने में तो यहां लोगों को वर्षों लग जाते हैं. मैंने तो केवल अभी दो तीन ही फिल्में की है. सो, यह तो नहीं कह सकता. लेकिन हां, इंडस्ट्री से स्वीकार लिया है तभी तो थैंक गॉड आराम करने की भी फुर्सत नहीं लगातार काम कर रहा हूं. शूटिंग कर रहा हूं.

आप दोनों अब सेलिब्रिटी हैं और सेलिब्रिटी फेस बनने के बाद वे कौन सी चीजें हैं जो आप दोनों बेहद मिस करते हैं?
आलिया : मुझे पायजामा पहन कर रेड कार्पेट में जाना है. मुझे कंफर्ट रहना है. मुझे हर वक्त अच्छा नहीं दिखना. हर वक्त कैमरे में कैद नहीं होना. पहले मैं यह सब कर पाती थी. लेकिन अब नहीं कर सकती. मेरे हर लाइन पर एक हेडलाइन बन जाती है. अब हर जगह कुछ भी यूं ही बेफिक्र होकर नहीं बोल पाती. तो मैं ये चीजें मिस करती हूं.
अर्जुन : मुझे आराम नहीं मिल रहा. और परिवार के साथ वक्त नहीं दे पाता. बहन के साथ वक्त नहीं दे पा रहा. अपने प्रिय दोस्त वरुण की हालिया रिलीज मैं नहीं देख पाया हूं. मेरे दोस्त मुझसे नाराज रहते हैं. हर किसी के साथ बिंदास कहीं भी कॉफी शॉप में अब नहीं बैठ सकता. हर दिन हेडलाइन बनने से डर लगता है. लेकिन हां, अब ये चीजें मिस करता हूं.

फिल्म टू स्टेट्स के बारे में बतायें और फिल्म को हां कहने की क्या वजह रही?
आलिया : मैंने यह फिल्म स्टूडेंट आॅफ द ईयर साइन करने  के 15 दिनों के बाद ही  कर दी थी. चूंकि मुझे ये कहानी बेहद अच्छी लगी थी. कहानी में इनोसेंस है. प्यार है. और मुझे ऐसी कहानी बेहद पसंद है. और खासतौर से धर्मा प्रोडक् शन जिसकी मैं बच्ची हूं( इस लिहाज से कि मुझे पहला ब्रेक यही मिला) उसके साथ मुझे जितनी बार मौके मिलेंगे मैं काम करना चाहूंगी.
अर्जुन : मैंने टू स्टेट्स अभी तक नहीं पढ़ी है. लेकिन मैंने सुन रखा था कि यह किताब युवाओं को बेहद अच्छी लगी है. और बहुत पसंद की गयी है. लव स्टोरी है और मैं लार्जर और लाउड किरदार से थक गया तो मुझे लगा कि मुझे ऐसे किरदार भी निभाने चाहिए. और मुझे लगता है कि अभिषेक बर्मन जो कि फिल्म के निर्देशक हैं, जिन्होंने गूगल रियूनियन जैसे वीडियो का निर्माण किया है तो उनकी सोच में निश्चित तौर पर वह बात होगी कि वे अपनी कहानियों को बेहतरीन तरीके से दिखायें. फिल्म में क्रिश का जो किरदार है. दरअसल, उसमें मुझे खुद को तलाशना आसान लगा. चूंकि इससे पहले मैं परमा, बाला या  औरंगजेब में जैसे किरदार मैंने निभाये हैं मैं वैसा लार्जर और लाउड नहीं हूं. दूसरी बात है कि कौन नहीं चाहता कि धर्मा के साथ काम करने का मौका मिले.सो, मेरे पास इस फिल्म को हां कहने की सारी वजहें थीं.

अर्जुन और आलिया पिछले लंबे समय से आप दोनों के अफेयर की चर्चाएं चल रही हैं. क्या यह सही है? या आप दोनों सिर्फ दोस्त हैं.
आलिया : अर्जुन और मैं एक दूसरे को इस फिल्म से पहले नहीं जानते थे. हां, फिल्म के दौरान हम दोस्त बनें और हां अर्जुन मेरे लिए स्पेशल हैं. क्योंकि वे अच्छे व्यक्ति हैं. लॉयल हैं और उन्हें इमोशन की कद्र हैं. लेकिन इसका यह मतलब बिल्कुल नहीं कि हम में अफेयर चल रहा.
अर्जुन : आलिया बेहद स्वीट हैं और वह जिस तरह से लगातार ग्रो कर रही हैं. उन्हें देख कर अच्छा लगता है. लेकिन किसी के साथ रिलेशन में होना और उसे स्वीकार करना एक बड़ी बात होती है. मैं चाहूंगा कि अगर वाकई मैं कमिटेड हूं तभी यह कहूं. आलिया मेरी अच्छी दोस्त है और हम एक दूसरे के साथ वक्त स्पेंड करते हैं तो हमें अच्छा लगता है. लेकिन यह जो खबरें आ रही हैं लगातार वह फिल्मों की रिलीज तक ही रहेगी. लेकिन हां, इससे हमारी दोस्ती पर कोई फर्क नहीं पड़ेगा.

आप दोनों के ही पिता हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में स्थापित और चर्चित चेहरे हैं. तो घर में जब एक सीनियर रहें तो क्या सीखने का मौका मिलता है.
आलिया : मुझे मेरे पापा महेश भट्ट की एक खास बात पसंद है कि वह ब्लंट हैं. और दुनिया जो भी कहे. फिर चाहे वह उनके व्यक्तित्व के बारे में हो या फिर उनके शारीरिक बनावट के बारे में. वे इसकी फिक्र नहीं करते. मैं जब भी किसी दिन थक कर उनको फोन करती हूं तो वे बेहद खुश होते हैं कि वाह इसी तरह काम करते रहो.
अर्जुन : मैं इन दिनों पापा के साथ फिल्म तेवर की शूटिंग करके लौटा हूं. अ
च्छा लगा कि हमने जितने भी दिन शूटिंग की. पापा मेरे साथ थे. लंबे समय के बाद मैंने उनके साथ इतना वक्त बिताया. पापा की खास बात यह है कि वे पंचुअल हैं. और साथ ही वे मेरे काम में कोई एंटरफेयर करने की कोशिश नहीं करते. वे काम के बाद मुझे अपना स्पेस देते हैं. मेरे काम का सम्मान करते हैं. मेरे लिए यही सबसे खास बात है.

आपकी आनेवाली फिल्मों के बारे में बताएं?
आलिया : हंप्टी शर्मा मेरी आनेवाली फिल्म है, जिसमें मैं पंजाबी लड़की का किरदार निभा रही हूं. और मुझे वह किरदार निभाने में बेहद मजा आया है.
अर्जुन: सोनाक्षी सिन्हा के साथ तेवर कर रहा हूं. इसकी शूटिंग शुरू हो चुकी है.  

No comments:

Post a Comment