My Blog List

20150630

मसान व बनारस


कान फिल्मोत्सव में निर्देशक नीरज गवान की फिल्म मसान ने दो पुरस्कार जीते और इस तरह कान फिल्मोत्सव में भारतीय सिनेमा का परचम लहराया है. हाल ही में फिल्म का ट्रेलर लांच किया गया है.फिल्म के ट्रेलर से फिल्म के बारे में जो जानकारी हासिल हो रही है, वह यह है कि बनारस की गलियों में छुपे कुछ हकीकत को सामने लाने की कोशिश की गयी है. बनारस हमेशा सुर्खियों में रहा शहर रहा है. इस वर्ष चुनावी माहौल में भी सबसे अधिक चर्चित शहर यही रहा.  निश्चित तौर पर नीरज ने इसे सिर्फ धार्मिक महत्व से नहीं दर्शाया है. मोहल्ला अस्सी को लेकर भी काफी विवाद हो रहे हैं. दरअसल, इस शहर के अपने सिर्फ धार्मिक महत्व ही नहीं हैं. ऐसी और भी कई छुपी कहानियां हैं जो दर्शकों के सामने आनी ही चाहिए. मसान के ट्रेलर से महसूस हो रहा कि फिल्म में किस हकीकत को बयां करने की कोशिश की जा रही है. आनंद एल राय ने भी रांझणा के माध्यम से बनारस के एक बेहतरीन रूप को दर्शकों के सामने प्रस्तुत किया था. मसान के ट्रेलर से भी एक प्रेम कहानी के संकेत मिल रहे हैं तो दूसरी तरफ एक लड़की किस तरह बुरे हालात में फंसती है. उसके संकेत मिल रहे. इस शहर को ऊपरी तौर पर सिर्फ धार्मिक स्थल के रूप में ही देखा जाता रहा है. लेकिन निर्देशकों ने अपने सिनेमेस्कोप से नहीं कहानी गढ़ने की कोशिश की है तो उस लिहाज से यह फिल्म एक महत्वपूर्ण फिल्म हो जाती है. ऐसी फिल्मों का हमें बॉक्स आॅफिस पर उसी तरह स्वागत करना चाहिए, जैसे हम किसी विदेशी निर्देशक की भारतीय मूल की फिल्मों को करते हैं. जैसा किसी दौर में हमने स्लमडॉग मिलेनियर के लिए किया था. और जिस तरह हम विदेशी फिल्मों के लिए अपना क्रेज दिखाते. कान में सम्मानित होता अंतरराष्टÑीय स्तर पर हमारी कामयाबी है और इसकी सराहना होनी चाहिए

No comments:

Post a Comment