My Blog List

20150905

सेलिब्रिटीज व उनकी डिमांड

हाल ही में अमिताभ बच्चन के एक चैनल से ली गयी फीस को लेकर काफी चर्चाएं हुई. खुद अमिताभ बच्चन ने इस बात की पुष्टि की कि उनका चैनल से कोई अनुबंध नहीं है और न ही उन्होंने कोई ऐसी फीस ली है. इससे पहले भी अमिताभ बच्चन व अन्य सितारों को लेकर सोशल साइटस और आम लोगों की बातचीत में ये बातें शामिल होती रही हैं कि उस सुपरस्टार को देखो, उसने तो उतनी फीस ले ली. वह तो सिर्फ पैसे के लिए ही सारे काम करते हैं. अपने नाम पर उसने कितनी फीस मांग ली. आमतौर पर सेलिब्रिटीज पर सबसे पहले प्रश्न चिन्ह लगाये जाते हैं. शाहरुख खान के बारे में कई लोगों की राय है कि वे इतने बड़े सुपरस्टार हैं, उन्हें शादियों व पार्टियों में फीस लेकर नाच गाने की क्या जरूरत है. कंगना ने एक बार अपनी बातचीत में कहा कि उन्होंने कुछ फिल्में इसलिए की, ताकि वह अपना मकान मुंबई में ले सकें. वे जानती हैं और मानती भी हैं कि अभिनेता बनने के बाद आप और कुछ भी नहीं कर सकते. यह बात समझ  से परे है कि आखिर सेलिब्रिटीज पर हम प्रश्न चिन्ह क्यों लगाते हैं? अगर वे ब्रांड हैं और अपनी मेहनत की कमाई का हिस्सा मांगते हैं तो यह कहां से अनुचित है. मेहनत का फल और मेहनत की पूरी फीस कम लोगों को ही नसीब होती है. अगर सेलिब्रिटी उस स्थिति में हैं तो वे अपना हक क्यों न मांगे. और किसी को भी यह हक नहीं कि हम किसी से भी उनके मेहनताना के बारे में पूछें. क्या आप अपने परिवार के सदस्य से यह पूछने की हिम्मत रखते हैं कि तुम्हारी तनख्वाह कितनी है. अगर घर के सदस्य से पूछने में हमें शर्म आती है तो फिर सितारों से क्यों पूछा जाना चाहिए. यह उनका निजी निर्णय है. और इसके लिए उन्हें सोशल साइट्स पर अपशब्द कहना बिल्कुल अनुचित है. वे क्या और कितनी मेहनत करते. कभी नजदीक से इस हकीकत से भी सामना होना चाहिए

No comments:

Post a Comment