My Blog List

20140217

भगवान दादा पर बायोपिक


 बायोपिक की दौड़ में एक और बायोपिक शामिल होने जा रही है.खबर है कि भगवान दादा पर बायोपिक फिल्म बनाने की तैयारी हो रही है. मधुर भंडारकर के अस्टिेंट रह चुके नीरंजन पटवर्धन इस पर कहानी लिख रहे हैं. नीरंजन लंबे समय से इस पर रिसर्च कर रहे हैं. उन्होंने बताया है कि वह यह बायोपिक इसलिए बनाना चाहते हैं क्योंकि वे मानते हैं कि भगवान दादा का भी हिंदी सिनेमा को आगे बढ़ाने में महत्वपूर्ण योगदान रहा है और उनके करियर में भी ऐसे कई लम्हे आये हैं, जिनमें उतार चढ़ाव रहा. नीरंजन ने वाकई एक दिलचस्प विषय चुना है. बशर्ते कि यह फिल्म वाकई रूप ले ले. चूंकि पिछले कई सालों से जितनी ज्यादा घोषणाएं बायोपिक फिल्मों को लेकर हो रही है. उतनी ही कम फिल्में फ्लोर पर आ पा रही हैं या कोई रूप ले पा रही हैं. बहरहाल नीरंजन ने कहा है कि वह 1930 से 1950 के उस एनडी स्टूडियो का फिर से निर्माण करेंगे, ताकि फिल्म को वास्तविकता दे पायें. साथ ही वह मजेस्टिक और अपसरा थियेटर के भी डुप्लीकेट्स बनायेंगे. निस्संदेह पीरियड दौर की यह चीजें किसी फिल्म के रूप में बड़े परदे पर देखना दिलचस्प होगा. खासतौर से उन युवाओं के लिए जो भगवान दादा को जानते भी नहीं. हिंदी सिनेमा के 100 साल पूरे होने के बावजूद हम आज भी ऐसे कई चेहरों से अनजान हैं, जिन्होंने महत्वपूर्ण भूमिकाएं निभाई हैं. उस लिहाज से यह फिल्म अगर सही तरीके से बनती हैं और परदे पर दर्शाई जाती है तो उल्लेखनीय फिल्म होगी. लेकिन इसके लिए नीरंजन को निस्संदेह काफी शोध से काम करना होगा. भगवान दादा सिर्फ डांस नहीं थे, वह कॉमेडियन भी थे. स्टंटमैन भी थे. साथ ही सफल फिल्मकार भी. उन्होंने  बी ग्रेड फिल्मों से मुख्य धारा तक की फिल्मों में आने तक का सफर तय किया था. सो, इस फिल्म का बेसब्री से इंतजार रहेगा.

No comments:

Post a Comment