My Blog List

20140218

डर के आगे जीत है


फिल्म जिंदगी न मिलेगी दोबारा में ऋतिक रोशन, अभय देओल और फरहान अख्तर तीनों किसी न किसी चीज से जिंदगी में डरते हैं. लेकिन तीनों ही डर को अपने सामने हरा देते हैं. दरअसल, वास्तविक जिंदगी में भी बॉलीवुड की कई शख्सियत भी  कई चीजें करने से डरती हैं. लेकिन फिल्मों में  किरदार निभाते निभाते कई बार कई फिल्मी हस्तियां अपनी वास्तविक जिंदगी में भी कई चीजें सीख जाती हैं. बॉलीवुड शख्सियतों के कुछ ऐसे ही हुनर पर अनुप्रिया अनंत की रिपोर्ट, जो उन्होंने फिल्मों के माध्यम से सीखी.

 फिल्म धूम 3 को देखने के बाद यह स्पष्ट रूप से नजर आ रहा है कि आमिर खान ने किस तरह अपने डर को दूर भगाते हुए और अपने कंफर्ट जोन से बाहर आकर किस तरह फिल्म के  बहाने ही कई ऐसी विधाएं सीखीं, जिनसे वह कभी रूबरू नहीं थे. आमिर खान समेत कई फिल्मी हस्तियों ने स्वीकारा है कि उन्होंने अपने डर को फिल्म की वजह से खत्म किया.
आमिर ने किया डर को दूर
आमिर इमोशनल फिल्में करने में माहिर रहे हैं, लेकिन पहली बार उन्होंने धूम 3 में अपने कंफर्ट जोन से बाहर आकर वह सारे स्टंट किये हैं, जिन्हें वह करने से पहले घबराते थे. याद हो कि वह पहले एक विज्ञापन में यह दोहराते नजर आते थे कि मैं स्टंट नहीं करता. लेकिन आज उन्होंने धूम 3 के माध्यम से वास्तविक जिंदगी की कई ऐसी नयी विधाओं को सीखा, जिनसे वे पहले या तो डरते थे या घबराते थे. उन्होंने फिल्म धूम 3 के बहाने एक सर्कस जिम्नास्ट की सारी ट्रेनिंग ली. वे पहले ऐसे कोई किरदार नहीं निभाते थे. जिसमें उन्हें काफी घूमना हो. उन्होंने खुद अपनी बातों में स्वीकारा है कि उन्हें काफी चक्कर आते थे. लेकिन इस फिल्म में उन्होंने विधा सीखी. इसके अलावा उन्होंने टैपिंग डांस सीखी. जो उनकी काफी दिनों से इच्छा थी कि वह इसे सीखे. और उन्हें लगता था कि यह काफी आसान होगा. लेकिन जब उन्होंने इसे सीखना शुरू किया तो उन्हें काफी मशक्कत करनी पड़ी. सिर्फ धूम 3 ही नहीं. उन्होंने फिल्म तलाश के दौरान तैराकी सीखी. इससे पहले उन्हें पानी से काफी डर लगता था. चूंकि फिल्म में स्कूबा ड्राइविंग का अहम दृश्य था तो उन्होंने इस वजह से तैराकी सीखी.
कट्रीना की कमजोरी
कट्रीना कैफ मानती हैं कि वे अच्छी डांसर तो हैं लेकिन उनकी बांहें उनकी कमजोरी हैं और वह उसका ज्यादा इस्तेमाल नहीं कर पातीं. लेकिन फिल्म धूम 3 में उन्होंने अपनी इस कमजोरी को हराया है और उन्होंने जिस तरह अपने पूरे शरीर का इस्तेमाल किया है. और ज्यादातर दृश्यों में उनके हाथ के ही करतब अधिक दिखाये गये हैं. वह खुद मानती हैं कि इस फिल्म से उन्होंने अपनी यह कमजोरी दूर की है. साथ ही उन्होंने फिल्म जिंदगी न मिलेगी दोबारा के वक्त बाइक चलाना सीखा, जिसे वह पहले डराने में काफी डर रही थीं. लेकिन उन्होेंने डर को हराते हुए बाइक चलाना सीखा.
शाहिद कपूर ने सीखी  फ्लाइंग
शाहिद कपूर को ऊंचाईयों से काफी डर लगता था. लेकिन उन्होंने फिल्म मौसम के लिए बकायदा ट्रेनिंग ली. इस फिल्म में उन्होंने वाकई जी 6 लेवल पर फ्लाइंग किया था और उन्होंने एक महीने तक इसकी ट्रेनिंग ली थी. शाहिद कपूर पहले बॉलीवुड एक्टर हैं जिन्हें वास्तविक एफ 16 में बैठने का मौका मिला था.
पानी से डर हुआ खत्म
लारा दत्ता को भी आमिर खान की तरह ही पानी से काफी डर लगता था. लेकिन फिल्म ब्लू के लिए उन्होंने नेशनल लेवल कोच से स्वीमिंग सीखी. ब्लू की वजह से लारा दत्त ने हाइड्रो फोबिया को खत्म किया.
ऋतिक रोशन को मिले शब्द
ऋतिक रोशन ने फिल्मों की वजह से ही अपनी सबसे बड़ी कमजोरी अपने हकलाने की बीमारी को खुद से दूर किया. चूंकि आमतौर पर बातें करते वक्त वह भले स्पष्ट न बोल पायें. लेकिन फिल्मों ने उनमें आत्मविश्वास दिलाया कि वह स्पष्ट बोल सकते हैं. वे मानते हैं कि फिल्मों की वजह से उन्होंने अपनी इस कमजोरी को खुद से दूर किया.
माधुरी दीक्षित ने किया स्टंट 
माधुरी दीक्षित ने गुलाब गैंग के लिए कई वास्तविक वैसे स्टंट किये हैं, जिन्हें फिल्माने में उन्हें पहले काफी डर लग रहा था. चूंकि उन्हें भी ज्यादा ऊंचाईयों से डर लगता है. लेकिन माधुरी ने भी अपने इस डर को गुलाब गैंग की वजह से दूर कर लिया.
: मैं खुशनसीब हूं कि मैं कई सालों से टैपिंग सीखना चाहता था. लेकिन सीख नहीं पा रहा था. लेकिन आदित्य ने मुझे इसकी तैयारी के लिए तीन महीने के लिए बिल्कुल अलग दुनिया में जाने का मौका दिया. धूम 3 से मिली यह सबसे बड़ी अचीवमेंट है मेरे लिए . - आमिर खान

No comments:

Post a Comment