My Blog List

20140217

2 साल


लाइफ ओके ने हाल ही में अपने 2 साल पूरे किये. आमतौर पर घर के बोलचाल में हम बातचीत में अक्सर कहते हैं कि भगवान ने बचा लिया. भगवान इसका भला करें. दरअसल, लाइफ ओके पर भी भगवान की ही कृपा है. भगवान शिव की कृपा. देवों के देव महादेव की वजह से इस चैनल को इतनी लोकप्रियता मिली है कि आज भी यह शो नंबर वन पर है. जब लाइफ ओके ने शुरुआत की थी. उस वक्त कई लोगों ने कहा था कि यह चैनल भी बंद हो जायेगा. जैसे अन्य चैनल हुए. इससे पहले स्टार प्लस के ही चैनल स्टार वन का नाम और कलेवर बदल कर इसे नया रूप लाइफ ओके दिया गया. नाम के साथ ही मिजाज और कलेवर बदल कर जो नयी छवि दर्शकों को परोसी गयी वह कामयाब रही. देवों के देव महादेव को उस वक्त लोकप्रियता मिली जब धार्मिक शोज असफल हो रहे थे. शिव महिमा पर पहले भी शोज आ रहे थे लेकिन जो लोकप्रियता इस शो को मिली. इस शो ने रामायण के भी रिकॉर्ड को तोड़ डाला. निश्चित तौर पर सफलता का श्रेय महादेव के मोहित रैना को जाता है. लेकिन लाइफ ओके जैसे चैनल की सफलता से अन्य चैनलों को सीख लेनी चाहिए कि किस तरह कुछ नये अंदाज के शोज या धार्मिक शोज को ही नये कलेवर के साथ, प्रेजेंटेशन के साथ प्रस्तुत किया जाये तो दर्शक उसमें रुचि लेते हैं. इस चैनल ने शुरुआती दौर में माधुरी को चैनल का चेहरा बनाया था. सौभाग्यवती भव: जैसे शो को भूला नहीं जा सकता, जिसने घरेलू हिंसा को लेकर अहम कदम उठाये और एक मुहिम चलायी. लाइफ ओके ने हातिम जैसे पौराणिक शो की शुरुआत की है. उम्मीदन आगे आनेवाले सालों में भी वह अच्छे कदम बढ़ायें. हां, मगर मल्लिका शेरावत के शोज जैसे शोज को शामिल करने की गुस्ताखी न करे तो बेहतर. मध्म गति से ही सही चैनल ने खास पहचान स्थापित की है.

No comments:

Post a Comment