My Blog List

20130513

एक दामाद भी बन सकता है बेटा राकेश पासवान

समाज से जुडे. कुछ अहम मुद्दों पर लगातार धारावाहिकों का निर्माण कर रहे राकेश पासवान का मानना है कि एक घर बनाऊंगा के माध्यम से कई दामाद बेटे बनने की कोशिश करेंगे. क्या है यह शो बता रहे हैं खुद राकेश पासवान..

शो का कांसेप्ट

यह एक ऐसा कांसेप्ट है, जिसे अब से पहले टेलीविजन पर कम ही दिखाया गया है. आप देखते आये हैं कि मैंने अपने हर शो के माध्यम से समाज के वैसे मुद्दों को उठाया है, जो हमारे आपके बीच के होते हैं, पारिवारिक होते हैं. लेकिन हमारी नजर वहां नहीं जाती है. एक घर बनाऊंगा ऐसी ही कहानी है. इस कहानी के माध्यम से हम दर्शकों को यह दिखाने की कोशिश करेंगे कि कैसे किसी घर में अगर दो बेटियां हैं और उनकी शादी के बाद उनके पेरेंट्स जब अकेले हो जाते हैं तो कैसे एक दामाद उनका बेटा बन सकता है. ऐसे आम मसलों पर हमारा ध्यान नहीं जाता. आज भी हमारे समाज में लड.की के माता-पिता लड.की के ससुराल का पानी भी नहीं पीते. ऐसे में आखिर एक दामाद कैसे बनता है बेटा. यही इसकी कहानी है.

दामाद की अहम भूमिका

लोग कहते जरूर हैं कि शादी दो परिवारों का मिलन है. लेकिन यह हकीकत नहीं है. शादी के बाद दो परिवारों का मिलन नहीं हो पाता. क्योंकि शादी के बाद एक लड.की को अपने परिवार वालों का साथ देने में बहुत दिक्कत होती है. ऐसे में दामाद की अहम भूमिका हो जाती है. वह चाहे तो जिस तरह से अपनी पत्नी के परिवार वालों को रखना चाहे रख सकता है. सो, इस शो में यही दिखाने की कोशिशकी गयी है कि हमारे यहां किसी को भी दामाद बनने की ट्रेनिंग तो नहीं दी जाती, लेकिन फिर भी एक दामाद कैसे सबका साथ देता है. साथ ही यह भी दिखाने की कोशिश है कि लड.की की शादी के बाद उसका अपना परिवार भी उसका ही परिवार रहता है. मेरा ख्याल है और उम्मीद है कि दर्शकों को यह शो बहुत पसंद आयेगा.

इशिता का चुनाव

मुझे यह पता नहीं था कि इशिता दत्ता भी झारखंड के जमशेदपुर से हैं. इशिता का भी ऑडिशन हुआ था और जो शो में पूनम का किरदार है, इशिता इसमें फिट बैठती थीं. पूनम का किरदार एक ऐसी लड.की का किरदार है, जो कॉन्वेंट में तो पली बढ.ी है, लेकिन दिल से ट्रेडिशनल है. साथ ही वह स्कूटी चलाती है. लेकिन अपने पापा को भी बहुत प्यार करती है. वह मॉडर्न है. लेकिन बिगड.ैल नहीं और अपने परिवार का भी अच्छी तरह ध्यान रखती है. इशिता के बारे में जब मैंने बाद में जाना कि वह झारखंड से है तो फिर हमारी बहुत सारी बातें होने लगी. हम दोनों अपने कॉमन इंटरेस्ट को शेयर करने लगे. अब झारखंड से संबंधित कई बातों को हम याद करते हैं. एक घर बनाऊंगा की कहानी लखनऊ और सीतापुर की है. इशिता और राहुल शर्मा मुख्य किरदार निभा रहे हैं. शाम 6.30 से यह हर दिन स्टार प्लस पर प्रसारित होगा.

No comments:

Post a Comment