My Blog List

20130108

औपचारिकता बनता विवाह



अभिनेत्री 14 दिसंबर को परिणय सूत्र में बंध गयीं. बॉलीवुड की टॉप एक्ट्रेस होने के बावजूद विद्या ने अपनी शादी सादगी से की. उन्होंने बिना किसी ताम-झाम के अपने व सिद्धार्थ के परिवार के बीच शादी की. यहां तक कि उनकी शादी में बॉलीवुड की कोई भी हस्ती शामिल नहीं थी. वर्तमान में बॉलीवुड में ऐसी सादगी वाली शादी विरले ही देखने को मिलती है. विद्या ने मेहंदी की रस्म पर भी न सिर्फ पारंपरिक जोड़ा पहना था, बल्कि हाथों में सामान्य सी मेहंदी ही लगाई थी. शादी की सारी रस्में भी एक मंदिर में संपन्न हुई. विद्या चाहतीं तो वह अपनी शादी का जश्न भव्य तरीके से कर सकती थीं. लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया. इसलिए नहीं कि वह जश्न में विश्वास नहीं करतीं. बल्कि इसलिए क्योंकि वे शादी की खुशी को वाकई अपने परिवारवालों के साथ ही बांटना चाहती थी. यह उनकी सोच है. लेकिन दुनियावालों की नजर में बॉलीवुड की ऐसी फीकी शादी शोभा नहीं देती, चूंकि सेलिब्रिटी का मतलब ही सेलिब्रेशन है. यही वजह है कि लोग विद्या की ऐसी शादी से अचंभित हैं. दूसरी तरफ कपूर खानदान की बेटी करीना ने भी हाल ही में सैफ अली खान से शादी की तो वे भी बेहद औपचारिक तरीके से. उनके हाथों में भी न तो मेहंदी थी. न ही कई रस्में हुईं. दरअसल, हकीकत यही है कि फिल्म जगत में अब शादी फिल्मी नहीं रहीं. शादी अब खुशियां सेलिब्रेट करने का नहीं बल्कि औपचारिका भर पूरी करने की एक रस्म बन चुकी है. जिसे अभिनेत्रियां बिना किसी ताम झाम या दिखावे की पूरी करना चाहती हैं. एक दौर था जब दिलीप कुमार की शादी में इतना भव्य आयोजन किया गया था जिसमें हिंदी सिनेमा की सभी हस्तियां आधी हस्तियां सायरा बानो की तरफ से तो आधी हस्तियों ने दिलीप कुमार की तरफ से शिरकत की थी. प्राण इस जश्न का हिस्सा बनने के लिए दूसरे की टिकट पर सफर करके लौटे थे.

No comments:

Post a Comment