My Blog List

20140802

बॉलीवुड व bhagya ke सितारें


आयुष्माना खुराना को फिल्म विकी डोनर से बॉलीवुड में एंट्री मिली. न सिर्फ एंट्री मिली, बल्कि इस फिल्म ने कामयाबी हासिल की और प्रयोगात्मक सिनेमा में नया अध्याय जोड़ा. इसी साल फिल्म इशकजादे के लिए परिणीति चोपड़ा को उस साल के हर अवार्ड समारोह में नवोदित अभिनेत्री के लिए कई अवार्डस मिले. और फिलवक्त ये दोनों कलाकार एक साथ किसी फिल्म में काम नहीं कर रहे. मगर जी सिने स्टार की खोज में वे मेंटर के रूप में नजर आ रहे हैं. आयुष्मान ने इसी शो की लांचिंग में बताया कि किस तरह उन्हें इसी शो के पहले संस्करण में रिजेक्ट कर दिया गया था. और आज उसी शो में वे मेंटर के रूप में उपस्थित हैं. वाकई आयुष्मान के साथ बिल्कुल किसी फिल्म की कहानी की तरह टिष्ट्वस्ट आया. वही दूसरी तरफ परिणीति चोपड़ा कभी अभिनेत्री बनने का ख्वाब नहीं देखती थीं. लेकिन एक दिन आदित्य चोपड़ा की नजर गयी और वह अभिनेत्री बन गयीं. इन दोनों कलाकारों की कहानियों को देखें, तो दोनों ही कहानियां दरअसल, बॉलीवुड की दुनिया की सच्चाई को दर्शाते हैं कि यहां किसी के लिए मेहनत से आगे बढ़ना लिखा है तो किसी के लिए लक है. मसलन, सितारों की दुनिया में शामिल होने के लिए मेहनत के साथ साथ भाग्य भी अहम हैं. हां, सितारों की दुनिया में शामिल होने के लिए आपके सितारों का बुलंद होना भी जरूरी है. बहरहाल, जी सिने स्टार ने यह बेहतरीन निर्णय लिया है कि वे प्रतिभागियों को इंडस्ट्री में सक्रिय कलाकारों से बातचीत करायेंगे. ताकि वह अवगत हो सकें. चूंकि वर्तमान में यह बेहद जरूरी है कि आप थ्योरी नहीं, प्रैक्टिकल में दुनिया देखें. यह जानना बेहद जरूरी है कि इंडस्ट्री में किस तरह काम होता है. फिल्में जब फ्लोर पर जाती हैं तो एक कलाकार को कितनी मेहनत करनी होती है. सो, सक्रिय कलाकारों के अनुभव उन्हें जानने ही चाहिए.

No comments:

Post a Comment