My Blog List

20140910

जिंदगी की पाठशाला


 झलक दिखला जा में महत्वपूर्ण प्रतिभागी के रूप में नजर आ रहीं मॉनी रॉय ने टीचर्स डे के संदर्भ में इस बात का जिक्र किया है कि जब वह टीवी इंडस्ट्री में आयीं तो उन्होंने अभिनेत्री (अब एचआरडी मंत्री) स्मृति ईरानी से बहुत कुछ सीखने का मौका मिला. उस वक्त मॉनी नयी कलाकर थीं और उन्हें अभिनय के उतने गुर नहीं आते थे. उस वक्त स्मृति ने ही मॉनी को सिखाया कि किस तरह अपने डायलॉग को थ्रो किया जाये. किस जगह उन्हें विराम लेना है. किस जगह नहीं. मॉनी मानती हैं कि उन्हें अभिनय में पहली पाठशाला स्मृति से ही सीखने को मिली. विवेक ओबरॉय को दान की सीख उनकी मां से मिली और आज वह इसे अपनी जिंदगी में लागू भी कर रहे हैं. प्रियंका अपने पिता से प्रेरित रही हैं और वह अपने पिता को ही अपना पहला गुरु मानती हैं. अनुपम खेर गुरु दक्षिणा के रूप में आज भी महेश भट्ट को अपनी आमदनी का कुछ हिस्सा हर महीने देते हैं. चूंकि महेश भट्ट ने ही उन्हें सारांश फिल्म से लांच किया और अभिनय में वे महेश को अपना पहला गुरु मानते हैं. शाहरुख खान की मां ने उन्हें कहा था कि मुझे लगता है कि तू सुपरस्टार बन सकता है. सो, शाहरुख अपनी मां को ही अपना पहला गुरु मानते हैं. दरअसल, हम अपनी जिंदगी में हर किसी से कुछ न कुछ नयी चीजें सीखते हैं. राह चलते भी किसी की कही कुछ बातें हमें प्रेरित कर जाती है. वह हमारे दिल को छू जाती है.इन दिनों हम सोशल नेटवर्किंग साइट्स के माध्यम से हम कई लोगों की कहानियां पढ़ते हैं. और उनसे प्रेरित होते हैं. जबकि हम उनसे कभी नहीं मिले. हम उनकी बातों को अपनी जिंदगी में शामिल करते हैं. तो ये सभी हमारी जिंदगी में गुरु ही तो हैं. यह जरूरी नहीं कि स्कूल में जिन्होंने आपको  सीख दी हो. सिर्फ उन्हें गुरु दिवस पर सम्मान दिया जाये या याद किया जाये. गुरु तलाशे तो हर वक्त आपके इर्द गिर्द होते हैं

No comments:

Post a Comment