My Blog List

20131127

बड़े परदे पर प्रेम कविता


बांबे टॉकीज का निर्माण कर चुकीं आशी दुआ की इच्छा है कि अब वह अमृता प्रीतम और साहिर लुधियानवी की प्रेम कहानी पर फिल्म बनायें. उन्होंने इस फिल्म में मुख्य किरदार निभाने के लिए करीना कपूर और फरहान अख्तर से बात की है. फरहान ने भाग मिल्खा भाग से खुद को साबित किया है और अब वह अगर इस फिल्म का चयन भी करते हैं तो निश्चिततौर पर वे इसमें बखूबी निभायेंगे. आशी दुआ ने सिनेमा के 100 साल पूरे होने के अवसर पर बांबे टॉकीज का निर्माण किया. यह बिल्कुल अलग सी सोच थी. और इस बार भी वे एक अलग सोच लेकर फिल्म बनाने के बारे में सोच रही हैं. चूंकि हिंदी सिनेमा में वास्तविक प्रेम कहानियों की जब भी बात होती है. ज्यादातर फिल्में रोमियो जूलियट या उनके किरदार से प्रभावित या फिर अंगरेजी उपन्यास के हिंदी रूपांतर पात्रों पर आधारित बनाने की कोशिश की जाती रही है. जबकि हिंदी सिनेमा खुद में ही कई प्रेम कहानियों से समृद्ध हैं. साहिर भी कवि थे. अमृता भी. दोनों की प्रेम कहानी निश्चित तौर पर सिनेमा के रूप में भी एक कविता के रूप में ही परदे पर नजर आयेगी. बशर्ते कलाकारों का चयन और निर्देशक के चयन में सावधानी बरती जाये. आशी बधाई की पात्र हैं कि वह लीक से हट कर भी फिल्मों के नॉस्टोलोजिक फैक्टर को लेकर फिल्में बनाने के बारे में सोच रखती हैं और उसे लेकर आगे भी बढ़ रही हैं. अमृता प्रीतम को लोग कवियित्री के रूप में जानते हैं. साहिर को भी. इस प्रेम कहानी के रूप में हिंदी सिनेमा को एक अदभुत प्रेम कहानी का सार मिलेगा. दर्शक एक नयी प्रेम कहानी देख पायेंगे. निश्चित तौर पर कई नयी बातें उभर कर सामने आयेंगी. और वह बेहद दिलचस्प होगी. उनकी प्रेम कहानी को लेकर सभी उत्साहित हैं. अब देखना यह है कि रुपहले परदे पर वह किसी रूप में प्रस्तुत होती है.

No comments:

Post a Comment