My Blog List

20131114

सुपरहीरो के रूप में सुपरस्टार


हिंदी फिल्मों में कई अभिनेताओं ने सुपरहीरो की भूमिकाएं निभाई हैं. इन अभिनेताओं ने हमेशा अपनी बातचीत में कहा है कि वे अपने बेटों के लिए सुपरहीरो की भूमिकाएं निभाना चाहते हैं. सुपरहीरो की इन कोशिशों में कुछ कामयाब रहे तो कुछ असफल. सुपरस्टार्स कोक्यों लुभाते हंै सुपरहीरो वाले किरदार
 अक्षय कुमार ने हाल ही में अपनी बातचीत में कहा है कि वे अपने बेटे आरब के लिए एक सुपरहीरो वाली फिल्म बनायेंगे जिसमें वह खुद सुपरहीरो के किरदार में नजर आयेंगे. चूंकि उनके बच्चे को सुपरहीरो वाली फिल्म पसंद आती है. शाहरुख खान ने अपनी फिल्म रा.वन जो कि उनके प्रोडक् शन की सबसे महंगी फिल्मों में से एक रही. उन्होंने यह फिल्म भी अपने बच्चों के लिए बनाई थी.
बाल दर्शकों की पसंद नापसंद
 दरअसल, सेलिब्रिटिज के बच्चे हॉलीवुड की फिल्में अधिक देखते हैं. हॉलीवुड में बच्चों के लिए सुपरहीरो की कहानियों की भरमार है. सो, वे किरदार उनके बच्चों को आकर्षित करते हैं. हालांकि एक हकीकत यह भी है कि आमतौर पर हिंदी सिनेमा के बच्चों को सुपरहीरो वाली फिल्में उतनी पसंद नहीं आयी हैं. वे बॉडीगार्ड जैसे किरदारों को ज्यादा पसंद करते हैं या फिर कोई मिल गया में जादू जैसे किरदार से भारत के बाल दर्शक खुदa को ज्यादा कनेक्ट कर पाते हैं. भारतीय सिनेमा के बाल दर्शकों को बैटमैन, सुपरमैन, आयरनमैन पसंद आते हैं. लेकिन बात हिंदी सिनेमा की हो तो वे बॉडीगार्ड को पसंद करते हैं. फिल्म पा के किरदार उन्हें अच्छे लग जाते हैं. कोई मिल गया का जादू उन्हें अच्छा लगता है. लेकिन कृष और रा.वन या द्रोणा जैसे किरदारों से वह खुद को कनेक्ट नहीं कर पाते.यही वजह है कि भारत में सुपरहीरो वाली फिल्में कम लोकप्रिय हो पाती हैं.
सुपरहीरो के रूप में खुद को साबित करने के मिलते हैं ज्यादा मौके
दरअसल, हकीकत यही है कि हर बच्चा अपने पिता को सुपरस्टार्स के रूप में ही देखना चाहता है. खासतौर से सेलिब्रिटिज अपने बच्चों की नजर में भी हमेशा सुपरस्टार्स बनने की कोशिश करते रहते हैं. ऐसे में उन्हें सुपरहीरो वाली फिल्मों में खुद को साबित करने के ज्यादा मौके होते हैं. चूंकि इन फिल्म में एक स्टार खुद के सारे स्टंट और अपनी प्रतिभाओं को लार्जर देन लाइफ प्रस्तुत करने की कोशिश करते हैं.
ज्यादातर होम प्रोडक् शन में बनती हैं फिल्में
सुपरहीरो वाली फिल्में ज्यादातर सुपरस्टार्स ने इन फिल्मों का निर्माण अपने होम प्रोडक् शन में किया है. शाहरुख खान की होम प्रोडक् शन की फिल्म थी रा.वन. ऋतिक रोशन के होम प्रोडक् शन की ही फिल्म है कृष और अब आ रही है कृृष 3. इसकी बड़ी वजह यह है कि हर सुपरस्टार इन सुपरहीरो वाली फिल्मों में अपनी प्रतिभा को ज्यादा से ज्यादा दिखाने की कोशिश करता है और उसे यह छूट अपने प्रोडक् शन हाउस में ही मिल सकती है. फिर चाहे इसके लिए वे 100 करोड़ की लागत ही क्यों न लग जाये. वे हॉलीवुड की कॉपी करने की कोशिश करते हैं, जिसमें वह पूरी तरह कामयाब नहीं हो पाते. नतीजन फिल्म दर्शकों को खास पसंद नहीं आ पाती.
कृष 3 से उम्मीदें
कृष 3 ऐसे वक्त पर रिलीज हो रही है. जब दर्शक काफी समझदार हो चुके हैं. उनका एक्सपोजर बढ़ चुका है. वे हॉलीवुड की फिल्में देखने में माहिर हो चुके हैं. ऐसे में कृष 3 के लिए यह चुनौती है कि वह किस तरह खुद को अलग दिखाने में कामयाब हो पायेगा. चूंकि फिल्म के पोस्टर और दृश्यों को लेकर पहले से ही चर्चा हो रही है कि यह कॉपी की गयी है. फिल्म के गाने भी बेहद पुराने और बासी हैं. ऐसे में ऋतिक रोशन कृष का जादू कायम कर पायेंगे या नहीं. यह संदेह है.
कौन कामयाब कौन फेल
रा.वन से शाहरुख खान ने सुपरहीरो की छवि प्रस्तुत करने की कोशिश की. वे नाकामयाब रहे. ऋतिक रोशन अब तक कामयाब रहे हैं. अभिषेक बच्चन ने द्रोणा के रूप में कोशिश की थी. लेकिन वे भी नाकामयाब रहे हैं. अक्षय कुमार स्टंट स्टार के रूप में तो लोकप्रिय रहे हैं लेकिन सुपरहीरो के रूप में कामयाब हो पाते हैं या नहीं ये आनेवाला वक्त बतायेगा. 

No comments:

Post a Comment