My Blog List

20140623

बॉलीवुड में शादियां


 विद्या बालन  से हाल ही में मुलाकात हुई. विद्या ने फिल्मों के अलावा कई मुद्दों पर भी बातचीत की. विद्या ने बताया कि जब उनकी शादी हुई तो उन्हें सबसे ज्यादा चिंता इस बात की थी कि अब उन्हें अपने माता पिता को छोड़ कर किसी और के साथ रहना होगा. वे कभी हॉस्टल में नहीं रहीं और शादी से पहले कभी बिना काम के वह कभी अपने माता पिता को छोड़ कर नहीं रहीं. तो शादी के बाद किसी के साथ रूम शेयर करना उन्हें यह सोच कर काफी चिंता थी. लेकिन शादी के बाद वे काफी खुश हैं कि उनके पति के साथ मिल कर वह न सिर्फ यह तय करती हैं कि आज घर में खाने में क्या बनेगा. बल्कि अब उनके पूरे दिन की प्लानिंग एक दूसरे से पूछ कर सामंजस्य से तय होती है. विद्या मानती हैं कि उन्हें शादी के बाद भी वह आजादी मिली है और इसलिए वे खुद को सुरक्षित मानती हैं. करीना कपूर खान ने शादी के बाद खुद में बस यही बदलाव किया है कि अब वह थोड़ा बहुत नॉन वेजीटेरियन खाना खाने लगी हैं. वरना, खाना पकाना उन्हें आज भी पसंद नहीं हैं. और वह सैफ के लिए कभी कुछ भी पकाने की कोशिश नहीं करती हैं. आमतौर पर यह अवधारणा है कि महिलाओं की जिंदगी शादी के बाद बदल जाती हैं और लड़कियां आजाद नहीं रह जातीं. लेकिन हिंदी सिनेमा की सुपरस्टार्स के ख्यालात बिल्कुल अलग हैं. वे शादी से खुश हैं. वे इत्तमिनान से हैं. लेकिन दूसरी तरफ फिल्म इंडस्ट्री में पुरुष वर्ग के लिए ही शादी एक बंधन की तरह है. हाल ही में एक निर्देशक ने स्वीकारा है कि उनके लिए शादी किसी कैद के समान थी और इसलिए उन्होंने शादी तोड़ दी. दरअसल, हकीकत यही है कि यह दोषारोपण करना कि केवल महिलाओं को स्वछंद होना पसंद है. ऐसा सही नहीं. दरअसल, आजादी हर किसी को चाहिए और हर किसी के लिए आजादी के मायने अलग हैं

1 comment: