My Blog List

20160304

ख्वाबों के कैमरे से


बॉलीवुड में ऐसे कई निर्देशक हैं, जिन्होंने बड़ी-बड़ी फिल्में बनाने का सपना देखा है और उनका वह सपना फौरन पूरा नहीं हुआ. लेकिन उन्होंने अपनी आस नहीं छोड़ी. कुछ ऐसे ही बॉलीवुड के निर्देशकों  की रिपोर्ट
 फैन
मनीष शर्मा की फिल्म फैन जल्द ही रिलीज होनेवाली है.फिल्म में शाहरुख खान लीड किरदार निभा रहे हैं और उन्होंने हाल ही में ट्रेलर लांच के दौरान यह बात स्वीकारी कि इस फिल्म के बारे में मनीष शर्मा ने शाहरुख खान से कई सालों पहले की थी. मनीष शर्मा का यह ड्रीम प्रोजेक्ट है और उन्होंने शाहरुख से कहा था कि उन्हें मुंबई जाकर यही फिल्म बनानी है. अगर वे यह फिल्म बनाने में कामयाब रहे तो वे बेहद खुशनसीब होंगे. और 9 सालों में उन्होंने अपना यह सपना पूरा किया है.
बाजीराव मस्तानी
बाजीराव मस्तानी को लेकर संजय लीला भंसाली ने भी लंबा इंतजार किया है. उन्होंने लगभग 12 साल इस फिल्म के लिए इंतजार किया है. लेकिन उनके जेहन में भी कभी यह बात नहीं आयी कि उन्हें यह फिल्म नहीं करनी चाहिए. इस फिल्म के लीड किरदारों को लेकर भी काफी विवाद चले. फिल्म के सेट को लेकर भी काफी चर्चा होती रही. लेकिन उन्होंने तय कर लिया था कि इसे बनायेंगे तो बनायेंगे. तब जाकर उनकी यह इच्छा पूरी हुई. वर्ष 2015 में यह फिल्म साल की सबसे बड़ी हिट फिल्म बनी.
मुगलएआजम
मुगलएआजम को उस दौर में बनने में काफी वक्त लगे. उस दौर में जहां तकनीकी आधार पर काफी कम साधन उपलब्ध थे. ऐसे में मुगलएआजम ने काफी सारे माइलस्टोन तय किये. फिल्म में ऐसे कई दृश्य हैं, जो आज भी भारतीय सिनेमा के इतिहास के आइकॉनिक दृश्य माने जाते हैं. इस फिल्म की खास बात यह थी कि लंबे अरसे तक बनने के बावजूद फिल्म अप्रसांगिक नहीं लगी. लोगों ने फिल्म को देखा भी और सराहा भी. के आसिफ के जहन में कभी इस फिल्म को न बनाने की बात नहीं आयी.
रईस
फिल्म रईस जल्द ही रिलीज होनेवाली है. इस फिल्म को भी राहुल ढोलकिया काफी सालों से बनाना चाहते थे. लेकिन उन्हें कामयाबी नहीं मिल पा रही थी. उन्होंने फिल्म को पूरे चार साल दिये हैं. तब जाकर अब यह रिलीज को तैयार है. यह फिल्म भी उनकी ड्रीम प्रोजेक्ट फिल्म है.
ब्लैक फ्राइडे 
अनुराग कश्यप की फ़िल्म ब्लैक फ्राइडे भी लम्बे समय तक रिलीज नहीं हो पायी थी। क्योंकि अनुराग कश्यप ने फ़िल्म में रियल स्थान और नामों का इस्तेमाल किया था। उन्हें काफी परेशानियां आयीं। लेकिन वे पीछे नहीं हटे। आखिर कार फ़िल्म रिलीज हुई और सपना पूरा हुआ।
लगान 
आशुतोष ने भी लगान बनाने का सपना देखा और इसे पूरा भी किया। उन्हें भी काफी लोगों को मनाने में वक़्त लगा। लेकिन फ़िल्म जब बनी तो काफी कामयाब हुई।

No comments:

Post a Comment